भाजपा की 149 सीटों पर बनी सहमति बाकी सीटों पर डबल नाम तय

उज्जैन उत्तर से पारस जैन का सिंगल नाम उज्जैन दक्षिण में दो नमो के बीच खेचतान
भोपाल। भारतीय जनता पार्टी में  देर रात लगभग 149 सीटों पर आम सहमति बन गई है। इसमें 70 सीटों पर सिंगल नाम और 79 सीटों पर 2 नाम की सूची, केंद्रीय चुनाव समिति को भेजे जाने का निर्णय होने की बात कही जा रही है। अभी चुनाव समिति की बैठक देररात तक चल रही है। इस बैठक में इस सूची पर चर्चा होने के बाद इसे भाजपा के केंद्रीय चुनाव समिति को दिल्ली भेजा जाएगा।
भारतीय जनता पार्टी ने वरिष्ठ नेता पुत्रों और रिश्तेदारों को टिकट देने से दूरी बना ली है। वहीं बाबूलाल गौर और सरताज सिंह जैसे कई वयोवृद्ध नेताओं को टिकट देने में चुनाव समिति सहमत नहीं है। यही नही पुरे प्रदेश में भाजपा के प्रत्याशी एक ही दिन नामांकन करेंगे। इस पर भी नेताओं के बीच सहमति बनी है लेकिन  अभी तिथि तय नही हुई है ।पार्टी सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के फीडबैक के अनुसार लगभग नामों पर चर्चा हो रही है । इनमे से 149 सीटों पर ही सहमति बन पाई। शेष 71 सीटों पर अभी कोई अंतिम राय नहीं बन पाने के कारण इन पर फिर से चर्चा की जा सकती है।भाजपा की केद्रीय चुनाव समिति की बैठक एक नवंबर को बुलाई गई है। पार्टी नेताओं द्वारा संभावना जताई जा रही है 1 या 2 नवंबर को भाजपा की पहली सूची जारी हो सकती है। सूत्रों का कहना है कि पार्टी द्वारा 4 नवंबर तक सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों के टिकट घोषित कर देगी। इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि प्रदेश चुनाव समिति सोमवार और मंगलवार को भी बैठ सकती है, ताकि बचे हुए नामों पर फैसला किया जा सके।
सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश चुनाव प्रबंध समिति के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, संगठन महामंत्री सुहास भगत और प्रदेश प्रभारी डॉ. विनय सहस्त्रबुद्धे ने लगभग 200 सीटों पर प्रत्याशी चयन की प्रक्रिया को अंतिम रूप दे दिया है। कुछ चुनिंदा सीटों पर जहां उम्रदराज नेता, सांसद या दूसरे दलों से आए नेताओं को टिकट देना है, सिर्फ  उन सीटों पर टिकट पार्टी को फ़ाइनल करना बाकी है।
माना जा रहा है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा सुझाई गई सूची और इस पर भाजपा नेताओं की कवायद के बाद जो सूची तैयार की गई है, इस पर प्रदेश चुनाव समिति द्वारा आज पुन: विचार किया गया। देर रात भी एक बैठक हुई। इसमें भाजपा नेताओं ने तीन कैटेगरी की सीटों पर चर्चा की गई। पहली वह जिनमें पार्टी 5 हजार से कम वोटों से जीती थी, दूसरी श्रेणी में 25 हजार या इससे अधिक वोटों से पार्टी जहां हारी थी, तीसरी वह सीटें हैं जहां सर्वे में मौजूदा विधायकों को स्थिति कमजोर बताई गई है। रविवार को भी तीसरी श्रेणी वाली सीटों को लेकर माथापच्ची जारी रही।
बैठक में यह रहे मौजूद
 भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने प्रदेश चुनाव समिति का पुनर्गठन कर 3 नए सदस्यों की नियुक्ति की है। नए सदस्यों में दो प्रदेश चुनाव प्रबंध समिति में सहसंयोजक के रूप में काम कर रहे हैं, इनमें कैलाश विजयवर्गीय, नरोत्तम मिश्रा और लाल सिंह आर्य हैं। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान,प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर,थावर चंद गेहलोत, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे,कृ ष्ण मुरारी मोघे,पूर्व प्रदेशाध्यक्ष नंद कुमार चौहान, विक्रम वर्मा,प्रदेश के मंत्री रा…

दीपावली के पहले घोषित होगी सूची पुरे प्रदेश में एक ही दिन भरे जाएंगे नामांकन

Reactions: