पिता ने नहीं सोचा था दहेज के दानव किस्मत की किस्मत में लिख देंगे मौत


नागौर (राजस्थान ) ;- सोनू सिंह हाडा की रिपोर्ट।                                                                                                                                                              मकराना, मकराना क्षेत्र के कुकड़ा गांव में दहेज के लिए ससुराल पक्ष द्वारा विवाहिता को केरोसिन डालकर जला दिया गया चंद टुकड़ों के लिए जो घर की लक्ष्मी को केरोसिन से जला दे वह मर्द और औरत नहीं राक्षस और पिशाचिनी होती है, समाज के दादोसा बाबोसा कब जागोगे आप या तो दहेज प्रथा बंद कर दो नहीं तो ऐसे लोगों को समाज से बाहर कर दो , राजपूत समाज में एक अमानवीय घटना घटित हुई दहेज के लोभीयो ने आज एक और जान ले ली ग्राम कुकडॉद तहसील मकराना जिला नागौर में किस्मत कंवर को उनके पति बलराज सिंह तथा ससुर भवानी सिंह एवं सासु ने मिलकर दहेज के लिए जला दिया गंभीर रूप से जली विवाहिता को उपचार के लिए जयपुर के मरुधर हॉस्पिटल ले जाया गया  उसके बाद सवाई मानसिंह अस्पताल ले गए वहां 95% जलने के कारण किस्मत ने 23 अक्टूबर की देर रात उपचार के दौरान दम तोड़ दिया जानकारी के अनुसार जयपुर के दूदू छेत्र के सुनाडिया गांव निवासी भवर सिंह की पुत्री किस्मत कँवर का विवाह मकराना तहसील के कुकड़ोद निवासी बलराज सिंह पुत्र भवानी सिंह के साथ ५ फरवरी २०१७ को हुवा था आज दहेज़ के लोभियो द्वारा उसे जला कर मरने पर आखो में आंसू लिए बेटी की लाश को देख अपने आप को कोस रहा है किस्मत ने मरने से पहले अस्पताल में अपना बयान दिया जिसमें किस्मत ने बताएं कि उसे 2 दिन से खाना भी नहीं दिया गया था और उसकी सास ने केरोसिन डालकर आग लगा दी                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                 शादी में दिया था ४० तोला सोना :- भवर सिंह ने सादी में अपनी हैसियत के हिसाब से १ लाख रूपए नगद ४० तोला सोना और १ किलो चाँदी के आलावा सम्पूर्ण घरेलू सामान दिया था                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                 " ऐसे दहेज के लोभीओं को समाज से बाहर कर देना चाहिए"                                            

शादी में दिया था ४० तोला सोना

Reactions: