संभाग के ओंकारेश्वर और माण्डू बने पर्यटकों के आकर्षण के केन्द्र

गजेंद्र सिंह की रिपोर्ट                                                                                                                                                                        इंदौर संभाग के ओंकारेश्वर और माण्डू दोनों पर्यटकों के आकर्षण के केन्द्र बने हुए हैं। ओंकार महोत्सव के तहत खण्डवा जिले के प्रसिद्ध ज्योतिलिंग ओंकारेश्वर में 30 एवं 31 दिसंबर को विविध आयोजन होगें। वहीं माण्डू में रोमांचकारी खेलों के साथ-साथ ऐतिहासिक धरोहरों का भ्रमण पर्यटकों को खींच रहा हैं।
       खण्डवा जिले के ओंकारेश्वर में आगामी 30 एवं 31 दिसम्बर 2018 को दिवसीय ओंकार महोत्सव आयोजित होगा। इस दौरान दोनों दिन प्रातः 6 बजे रात्रि 10 बजे तक लगातार कार्यक्रम आयोजित होंगे। खण्डवा कलेक्टर श्री विशेष गढ़पाले ने बताया कि दोनों दिन प्रातः 6 बजे से योग एवं ध्यान कार्यक्रम के साथ दिन की शुरूआत होगी। दिन में हेरिटेज वॉक, रुद्राभिषेक, सैलानी टापू पर जल क्रीडा, क्राफ्ट मेला, ओंकार विमर्श जैसे महत्वपूर्ण कार्यक्रम होंगे, जबकि रात्रि में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों में इंद्रावती नाट्य समिति जिला सीधी तथा महकेश्वर के नृत्यांजलि संघ द्वारा प्रस्तुत भरत नाट्यम् तथा प्रिंस डांस ग्रुप भुवनेश्वर, उड़ीसा की प्रस्तुति के अलावा सुश्री शुभा मुद्गल का गायन व नीलाद्रि कुमार का गिटार वादन जैसे कार्यक्रम आयोजित होंगे।
      निर्धारित कार्यक्रम अनुसार कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ आगामी 30 दिसम्बर को दोपहर 1 बजे से होगा, इसके बाद दोपहर 2 बजे से ओंकार विमर्श कार्यक्रम आयोजित होगा। इसके अलावा आगामी 30 व 31 दिसम्बर को दोनों-दिन प्रातः 6 से 8 बजे तक योग एवं ध्यान का कार्यक्रम आयोजित होगा, इसके बाद प्रातः 6:30 बजे से हेरिटेज वॉक, प्रातः 8 से 10 बजे तक रूद्राभिषेक कार्यक्रम, प्रातः 9 बजे से वन्य भ्रमण फॉरेस्ट ट्रेल कार्यक्रम आयोजित होगा। वॉटर स्पोर्टस सैलानी टापू पर प्रातः 9 से अपरान्ह 4 बजे तक आयोजित होंगे। आगामी 30 व 31 दिसम्बर को पूरे दिन फूड फेयर चटोरा-चटखारा मेला लगेगा, जिसमें पर्यटक अपने मनपसंद व्यंजनों का आनंद ले सकेंगे। इसके साथ ही दोनों दिन दिनभर ओंकार हाट क्राफ्ट मेला लगेगा। सायं 5 बजे से 6 बजे तक दोनों दिन नर्मदा आरती का कार्यक्रम सम्पन्न होगा। सायं 6:30 बजे से रात्रि 10 बजे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम शिवार्चन आयोजित होगा। आगामी 30 दिसम्बर को ही सायं 6:30 से सायं 7:30 बजे तक सीधी जिले के इंद्रावती नाट्य समिति द्वारा बसदेवा नाटक प्रस्तुत किया जायेगा। इसके बाद सायं 7:30 बजे से रात्रि 9 बजे तक सुश्री शुभा मुद्गल का शास्त्रीय गायन तथा 9 से 9:45 बजे तक सुश्री दिव्या शर्मा का शास्त्रीय गायन एवं नटेश्वर नृत्य संस्थान बड़वाह के कलाकारों द्वारा रात्रि 9:45 बजे से रात्रि 10 बजे कथक नृत्य प्रस्तुत किया जायेगा।
      आगामी 31 दिसम्बर 2018 को भी आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम सायं 6:30 बजे से महेश्वर के नृत्याजंलि समूह द्वारा भरतनाट्यम के साथ प्रारंभ होंगे। इसके बाद प्रिंस डांस ग्रुप भुवनेश्वर द्वारा सामूहिक नृत्य प्रस्तुत, सुश्री अमृता जोशी का कत्‍थक नृत्य, सुश्री सुनिता भुयान का वायन वादन, सुश्री सुनीता भुयान व सुश्री अमृता जोशी की जुगलबंदी तथा श्री नीलाद्रि कुमार का सितार वादन कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा।

ओंकार महोत्सव

Reactions: