तिन घंटे सड़क जाम,48 घंटे बाद टुटा आमरण अनशन

 संवाददाता-विवेक चौबे

कांडी- प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत ग्रामपंचायत-लमारी कला मुखिया प्रतिनिधि-संतोष सिंह ने हनुमान मंदिर के सामने आमरण अनशन किए थे।आज सड़क जाम करते हुए आमरण अनशन पर बैठे। अनशन पर बैठने के कई मुख्य कारण थे।जैसे-शौचालय निर्माण,बिजली की समस्या,पानी का व्यवस्था,डीलर के द्वारा मनमानी सहित कई मुद्दा शामिल हैं।48 घण्टे निर्जल रहते हुए अनशन की अवधि प्रारम्भ रहा। बीच सड़क पर अनशन जारी रहा।सड़क जाम तकरीबन 3 घंटे तक रहा।जिसमें यातायात बाधित रही,किन्तु मरीजों के वाहन छोड़ दिए जा रहे थे।सड़क जाम की खबर मिलते ही कांडी थाना संतोष पाण्डेय,निर्मल साहू के साथ साथ पुलिस बल भी सड़क जाम हटवाने का कोसिस किया गया लेकिन असर नहीं दिखा। संतोष सिंह ने पुलिस बल को ठुकरा दिया।पुलिस के साथ नोंक-झोंक भी हुआ।अनशन की खबर सुनते हुए सीओ पहुंचे।सीओ ने अनशन तोड़ने को कहा किन्तु असफल रहा।बीडीओ गुलाम समदानी व जिला से विकास कुमार भी पहुंचे।गुलाम समदानी अनशन के उद्देश्य समझते हुए कहा कि डीलर लाभुकों के साथ ठीक नहीं कर रहा है। उसके उपर कार्यवाई किया जाएगा। मौके पर सुनैना स्वयं सहायता समूह के डीलर के द्वारा दिए गए राशन को मशीन पर तौलवा कर प्रत्यक्ष दिखाया। मौके पर रत्न यादव के राशन को तौला गया,जिसमें कार्ड के अनुसार 30 किलो के बदले में 28 किलो,देनी रजवार को 50 के बदले 44 किलो,बलदेव साह को 60 के बदले 54 किलो राशन प्रत्यक्ष दिखाया गया।गुलाम समदानी ने सारी बातें सुनने के बाद कहा कि डीलर के ऐसे मनमानी पर लगाम लगाया जाएगा।वहीं विकास कुमार ने भी कहा कि मशीन से पर्ची निकलने के बाद पर्ची लाभुकों को न देना,राशन कम देना सहित कई समस्याओं से साफ स्पष्ट होता है कि डीलर बेलगाम हो गया है।डीलर लाभुकों के अनाज लूटने का काम कर रहा है।गुलाम समदानी व विकास कुमार ने उक्त डीलर को सस्पेंड करने को भी कहा।गुलाम समदानी व विकास कुमार के समझाए बुझाए जाने के बाद अनशन तोड़ दिया गया।

आमरण अनशन किए थे

Reactions: