फिर एक भ्रूण मिला,क्षेत्र में फैली सनसनी

संवाददाता-विवेक चौबे                                               

कांडी(गढ़वा)- प्रखण्ड क्षेत्र अंतर्गत सरकोनी पंचायत के ग्राम-सेमौरा स्थित पोखरा में एक भ्रूण मिला।कुछ ग्रामीणों के द्वारा देखने के बाद धीरे धीरे बात आग की तरह फैलने लगी। भ्रूण को देखने के लिए काफी संख्या में लोग पोखरा के पास पहुंच गए।भ्रूण मिलने से चारो ओर सनसनी फैल गयी है। बताते चलें कि  बारह दिन पहले भी एक नवजात का शव कांडी के पास झाड़ी में मिला था।   लगातार भ्रूण मिलने का वजह अबतक मालूम नहीं हो पाया  है ।वहीं शासन-प्रशासन की ओर से अभी तक कोई खुलासा भी नहीं किया गया है। क्षेत्र में झोला छाप डॉ की संख्या बढ़ गयी है। बिना लाइसेंस के कई क्लिनिल धड़ल्ले से चल रहे हैं। झोला छाप डॉ द्वारा लिंग परीक्षण करना व गर्भपात करना रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है।  मिले भ्रूण को ग्रामीणों के द्वारा दफना दिया गया। वंही जानकारी देते हुए सेमौरा वार्ड सदस्य योगेन्द्र बैठा ने बताया कि नवजात बच्ची का शव है। लोगों के अनुसार पांच से छः माह बताया गया। इस पर जब थाना प्रभारी विजय कुमार सिंह से पुछा गया तो उन्होंने कहा कि अभी तक हमें ऐसा कोई जानकारी नहीं मिला है ऑर मैं सरकारी कार्य से गढ़वा में हुं।अगर ऐसा मामला है तो जानकारी ले रहा हूँ। 
क्या कहते 20सुत्री अध्यक्ष रामलला दुबे
यह बहुत ही जघन्य अपराध है जो भी लोग ऐसा कर रहे हैं वे बहुत ही गलत कर रहे हैं।लड़कियों के लिए सरकार बहुत सारे योजना के तहत लाभ दे रही है। लेकिन ऐसे घिनौना काम करने वालों की जांच हो ऑर कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए तब जाकर ऐसे काम करने से लोगों में डर पैदा होगा ऑर ऐसा घिनौना काम करने से डरेंगे। सबसे बड़ी बात यह है कि यहाँ झोला छाप डॉक्टरों का भरमार हो गया है ऑर वे लिंग परिशिक्षण कर रूपये पैसा लेकर गलत कार्यों का अंजाम दे रहे हैं। मैं शासन प्रशासन से भी यही कहना चाहता हूँ कि पंद्रह दिन के भीतर ऐसा दुसरा घिनौना काम हुआ है ।इस पर जांच हो ऑर दोसियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया जाए।
 मौके पर-अवधेश गुप्ता,रंजन सिंह,रविकांत,राजकुमार पासवान,मंजीत पासवान,सत्यविजय सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

पोखरा में एक भ्रूण मिला।

Reactions: