सारथी रथ को हरी झंडी दिखाकर किया गया रवाना

झारखण्ड से भरत की रिपोर्ट:-                                                                                                                                                                                             
 साहिबगंज जिले के टाउन हॉल में मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का दीप प्रज्वलित कर उपायुक्त  व  बिधायक  ने किया  शुभारंभ

अति महत्वाकांक्षी योजनाओ के बारे में चर्चा कीकिसानों को दी जाने वाली राशि कर्ज नहीं है - विधायक श्री अनंत कुमार ओझा ने कहा



किसानों के आर्थिक सशक्तिकरण के लिए तथा उन्हें ऋण के कुचक्र से मुक्ति दिलाने के लिए मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का शुभारंभ किया गया है। यह सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना से जिले के आधा से ज्यादा लाभान्वित हुए  जिनका पीएफएमएस में डाटा अपलोड हो गया है, उनके के खाते में योजना की राशि पहुंचेंगी। राज्य सरकार ने किसानों के उन्नति के लिए मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के साथ सोयल हेल्थ कार्ड, न्यूनतम समर्थन मूल्य लागू किया है। हम सब के लिए यह हर्ष का विषय है कि इस योजना का महामहिम उपराष्ट्रपति ने रांची में उद्घाटन किया है।
यह बातें विधायक श्री अनंत कुमार ओझा जी ने मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना को लेकर  टाउन हॉल में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में कही।


उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के तहत 1 एकड़ या उससे कम कृषि भूमि वाले किसानों को ₹ 5000 प्रति वर्ष प्राप्त होंगे। 5 एकड़ तक कृषि भूमि वाले किसानों को अधिकतम ₹ 25000 प्राप्त होंगे।

मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के साथ प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना का भी लाभ कृषकों को मिलेगा। अब किसानों को 1 एकड़ या उससे कम में ₹ 11000 प्रति वर्ष तथा 5 एकड़ तक ₹31000 का आर्थिक लाभ मिलेगा। 
उन्होंने कहा यह किसान के पूर्ण रूप से विवेक पर निर्भर करेगा कि वह अपने खेत की उपज और गुणवत्ता को कैसे बढ़ाए। अब किसानों की आर्थिक स्थिति एवं उनके हाथ मजबूत होंगे। खरीफ का मौसम है। किसान खाद, बीज, कीटनाशक इत्यादि की खरीद के लिए इस राशि का सदुपयोग कर सकेंगे।
उपायुक्त ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री एवं माननीय मुख्यमंत्री की सोच है कि जब तक किसान मजबूत नहीं होंगे तब तक देश मजबूत नहीं बन सकता।

समारोह को संबोधित करते राजमहल विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री अनंत कुमार ओझा जी ने कहा कि योजना के तहत किसानों को दी जाने वाली राशि किसी प्रकार का कर्ज नहीं है। इस पैसे को लौटाना नहीं है। किसानों को हर साल हर खेती से पहले राशि मिलेगी तथा उनकी उन्नति होगी उन्होंने कहा किसान मजबूत होंगे तो भारत भी मजबूत होगा। माननीय प्रधानमंत्री एवं माननीय मुख्यमंत्री ने कर्ज के चक्रव्यूह को ध्वस्त करने के लिए किसानों के लिए यह योजना लागू की हैं


सभी किसानों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।    
                                       

सभी किसानों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

Reactions: