भूमाफियाओं के सपोर्ट में उतरे विधायक ने निगम अधिकारी की पकड़ी कॉलर

                                                                         
                  उज्जैन के तराना क्षेत्र के कांग्रेस विधायक महेश परमार ने एक अवैध कॉलोनी पर हो रही कार्यवाही को रोकने के लिए निगम अधिकारी सुबोध जैन के गिरेबान पर हाथ डाल दिया, भूमाफिया के सपोर्ट में उतरे विधायक ने सारे नियम कायदे ताक पर रखते हुए निगम अधिकारी से झूमाझटकी कर दी हालांकि इतना करने के बाद भी वे कार्यवाही को रोक नही सके

मामला उज्जैन के मक्सी रोड स्थित पंवासा का है जहां लगभग एक दर्जन अवैध कालोनियां आकर ले चुकी है जिसकी शिकायत मिलने के बाद खुद निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने मौका मुआयना कर कार्यवाही के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया था, जब निगम का अमला जेसीबी लेकर यहां आकर ले रही कालोनियों को ध्वस्त करने पहुंचा तो इन भूमाफियाओं के सपोर्ट में तराना से कांग्रेस विधायक महेश परमार मैदान में कूद पड़े, निगम की जेसीबी ने अंगारेश्वर कॉलोनी के गेट और सड़के तोड़ने के लिए जैसे ही अपना पंजा अड़ाया तो विधायक बौखला गए औऱ निगम अधिकारी सुबोध जैन की कॉलर पकड़कर झूमाझटकी कर दी, महेश परमार ने यह तक कहा कि शहर में कई अवैध कालोनियां है तुम्हे यही नजर आई क्या लेकिन वो ये नही बता सके कि वो सिर्फ इसी कॉलोनी के सपोर्ट में क्यों आये, बतादे की महेश परमार के मित्र अजीत सिंह ठाकुर और उनके परिजनों द्वारा इस क्षेत्र में बड़े पैमाने पर अवैध कालोनियां काटी जा रही है जिसकी शिकायत खुद क्षेत्रीय कांग्रेसी पार्षद आत्माराम ने निगमायुक्त से की थी जिस पर कार्यवाही के लिए टीम गई थी लेकिन महेश परमार ने मौके पर पहुंचकर कुछ कालोनियों को तो बचा लिए मगर वे उक्त कॉलोनी पर हो रही कार्यवाही को नही रोक सके, महेश परमार द्वारा अधिकारियों से बदसलूकी और इस तरह के गोरख धंधो में लिप्त भूमाफियाओं, भ्रष्टाचारियों को संरक्षण देने का यह पहला मामला नही है इससे पूर्व भी महेश परमार अपने पद और सत्ता का दुरुपयोग कर चुके है और लगातार जनता और अधिकारियों पर रौब झाड़ रहे है जिससे सरकार की छवि धूमिल हो रही है                                                                                         

कांग्रेस विधायक महेश परमार ने एक अवैध कॉलोनी पर हो रही कार्यवाही को रोकने के लिए

Reactions: