भोपाल संवाददाता धर्म गुरु आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज (मिर्ची बाबा) ने इंदौर में जनता द्वारा स्वास्थ्य एवं पुलिसकर्मियों पर किए गए हमले की कड़ी निंदा की उन्होंने कहा कि यह बहुत ही शर्मसार करने वाली घटना इंदौर के लोगों द्वारा की गई है।जहां एक तरफ हमारा देश कोरोना संकट से जूझ रहा है। देश के डॉक्टर नर्स स्वास्थ्य कर्मी सफाई कर्मी पुलिस ये सब लोग इस कोरोना जैसे महावारी से लड़ने के लिए सबसे आगे खड़े हैं। हमारे देश के प्रधानमंत्री ने भी सफेद पोशाक पहने डॉक्टरों को भगवान का दर्जा दिया है।एक और जहां कोरोना वायरस की जंग में संक्रमित लोगों का इलाज कर रहे डॉक्टरों नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों के सम्मान में तालियां बज रही है।तो वहीं मध्यप्रदेश के इंदौर में हेल्थ वर्कर की टीम के साथ मारपीट और उन पर पत्थरबाजी की गई इंदौर के टाट पट्टी बाखल इलाके में कोरोना वायरस की जांच करने पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम पर वहां रहने वाले लोगों ने पत्थरबाजी की उनके साथ मारपीट की और उन्हें खदेड़ कर भगा दिया स्वास्थ्य कर्मी जिसमें डॉक्टर और नर्स शामिल थे जैसे तैसे वहां से अपनी जान बचाकर भागे।इस पूरी घटना ने इंदौर शहर को ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश को शर्मसार किया है।मैं इस पूरी घटना की कड़ी निंदा करता हूं एवं मुख्यमंत्री से निवेदन करता हूं कि जल्द ही समाज के दुश्मन, ऐसे हमलावरों एवं पत्थरबाजों को जल्द ही गिरफ्तार करें एवं उनके खिलाफ कार्रवाई करें।



भोपाल संवाददाता धर्मगुरु आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज (मिर्ची बाबा) ने समस्त देशवासियों को शुभकामना देते हुए कहा कि श्रीरामनवमी सारे जगत् के लिए सौभाग्य का दिन है;क्योंकि अखिल विश्वपति सच्चिदानन्दघन श्रीभगवान् इसी दिन दुर्दान्त रावण के अत्याचार से पीडित पृथ्वी को सुखी करने और सनातन धर्म की मर्यादा की स्थापना करने के लिए मर्यादापुरुषोत्तम श्रीराम के रूप मे प्रकट हुए थे।श्रीराम केवल हिन्दुओं के ही ‘राम’ नही हैं, वे अखिल विश्व के प्राणाराम हैं। भगवान् श्रीराम को केवल हिन्दूजाति की सम्पत्ति मानना उनके गुणों को घटाना है,असीम को सीमाबद्ध करना है। विश्व-चराचर में आत्मरूप से नित्य रमण करने वाले और स्वयं ही विश्व-चराचर के रूप में प्रतिभासित सर्वव्यापी सर्वान्तर्यामीस्वरूप नारायण किसी एक देश या व्यक्ति की ही वस्तु कैसे हो सकते हैं? वे सब के हैं,सब के साथ सदा संयुक्त हैं और सर्वमय हैं।जो कोई भी जीव उनकी आदर्श मर्यादा लीला -उनके पुण्य चरित्र का श्रद्धा पूर्वक गान,श्रवण और अनुकरण करता है, वह पवित्र हृदय होकर परम सुख को प्राप्त कर सकता है। उन्ही हमारे श्रीराम का पुण्य जन्मदिवस चैत्र शुक्ल नवमी है। इस सुअवसर पर सभी लोगों को खासकर उनको, जो श्रीराम को साक्षात् भगवान् और अपने आदर्श पूर्वपुरुष के रूप में अवतरित मानते हैं, श्रीराम का जन्मपुण्योत्सव मनाना चाहिए। इस उत्सव का प्रधान उद्देश्य होना चाहिए श्रीराम को प्रसन्न करना और श्रीराम -जन्म का पुण्योत्सव मनाना चाहिए। इस उत्सव का प्रधान उद्देश्य होना चाहिए श्रीराम को प्रसन्न करना और श्रीराम के आदर्श गुणों का अपने में विकास कर श्रीराम कृपा प्राप्त करने का अधिकारी बनना। अतएव विशेष ध्यान श्रीराम के आदर्श चरित्र के अनुकरण पर ही रखना चाहिए।
रामनवमी सभी कामनाओं को पूर्ण करने वाली है। जो रामनवमी का व्रत करता है, उसके अनेक जन्मार्जित पापों की राशि भस्मीभूत हो जाती है और उसे भगवान् विष्णु का परमपद प्राप्त होता है। श्रीरामनवमी व्रत से भुक्ति एवं मुक्ति दोनों की सिद्धि होती है। जब तक हम तन मन और वचन से शुद्ध नही होते, तब तक न हमारा सांस्कृतिक उत्थान ही सम्भव नही होते, और न हमें कोई आध्यात्मिक लाभ ही प्राप्त हो सकता है। इसीलिए आज के दिन यह संकल्प किया जाता है-

” सकलपापक्षयकामोSहं श्रीरामप्रीतये श्रीरामनवमी व्रतं करिष्ये।”

अर्थात् ‘ सब पापों के क्षय की कामना से मैं श्रीराम की प्रसन्नता के लिए श्रीरामनवमी व्रत करूँगा। ‘ श्रीराम तो भगवान् हैं, अतएव उनकी प्रसन्नता के लिए हृदय की पूर्ण पवित्रता अपेक्षित है। 
अतः मुमुक्षुजनों को चाहिए कि आत्मकल्याण के लिए सदा श्रीरामनवमी व्रत करें । श्रीराम नवमी व्रत करने वाला सभी पापों से मुक्त होकर सनातन ब्रह्मा भगवान् श्रीसीताराम जी को प्राप्त कर लेता है।

श्रीरामनवमी तो हमें यही सांस्कृतिक संदेश देती है- अपने को शुद्ध करो, ज्ञान की सीमा का विस्तार करो, आत्मा के साथ ही विश्वात्मा को पहचानो तथा सद्भाव, समभाव और सहभाव से अपने जीवन को सफल और सार्थक बनाओ, रामभक्ति में लीन होकर राम बन जाओ।’श्रीरामार्पणमस्तु’। स्वयं आनन्दित रहकर दूसरों को आनन्दित करना ही राम का रामत्व है। इसके साथ ही महाराज जी ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए भारत देश की जनता से अपील की है कि अपने अपने घरों में रहकर ही भगवान श्री राम की पूजा अर्चना करें।



ग्वालियर संवाददाता- कोरोना वायरस ने पूरे विश्व मैं तबाही मचा रखी है।पूरा विश्व इस महामारी से जूझ रहा है। हमारे हमारे देश में भी लगातार इसके दुष्प्रभाव बढ़ते जा रहे हैं जिसकी रोकथाम हेतु महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज धर्मगुरु ने आज महाष्टमी के पावन पर्व पर ग्वालियर के प्राचीन शीतला माता के मंदिर में अकेले जाकर विश्व कल्याण एवं कोरोना वायरस पर विजय प्राप्त करने हेतु पूर्ण विधि-विधान से पूजा संपन्न की एवं मां भगवती से प्रार्थना की,कि
कोरोना वायरस शीघ्र ही खत्म हो जाए।महाराज जी ने बताया कि वे सरकार द्वारा दिए गए सभी निर्देशों एवं नियमों का पालन कर रहे हैं।और भारत के सभी नागरिकों से निवेदन किया है कि वह भी सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों एवं नियमों का पालन करें घर में रहें सुरक्षित रहें। गरीब एवं जरूरतमंद लोगों की मदद करें क्योंकि नर सेवा ही नारायण सेवा है इस कठिन परिस्थिति में अपने आसपास के लोगों का सहयोग करें जितना हो सके गरीबों की मदद करें।

सुनील परमार की रिपोर्ट। .....
गवालियर संवाददाता-आचार्य महामंडलेश्वर धर्मगुरु स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज (मिर्ची बाबा) ने वर्तमान मैं संकट के दौर से गुजर रहे देश की विषम परिस्थितियों में समस्त नागरिकों से धैर्य बनाए रखते हुए अपने अपने घरों में रहकर साधना व यज्ञ करने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा है।कि कुलदेवता की कृपा से इस संकट से देश जल्द ही बाहर आएगा प्रधानमंत्री ने अपनी सूझबूझ दिखाते हुए पूरे देश को लॉक डाउन किया है। क्योंकि इस बीमारी से निपटने का अभी कोई उपचार नहीं है। इसलिए घर के अंदर रहकर साधना यज्ञ पूजा,पाठ,योग,ध्यान करना ही एकमात्र बचाउ है। अपने मन को सकारात्मक रखना है।साधारण बुखार या खांसी आने पर डरे नहीं घबराए नहीं अच्छे डॉक्टर की सलाह लें सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें।महाराज जी ने कहा है।कि विपदा के समय मैं आज यह कोरोना वायरस हमारे देश में तेजी से फैल रहा है।उसके सामने जब तक हम लड़ने की स्थिति में नहीं है।तब तक घर में ही रहे इसी में देश के नागरिकों की भलाई है। यदि सब लोग अपने घरों मैं ही रहे तो निश्चित ही हम इस महामारी पर विजय प्राप्त कर पाएंगे।यही हमारे धर्म ग्रंथों का संदेश है। हमारे देश की सनातन परंपरा सदैव से प्रकृति को पूजती आ रही है।आज यदि इस विपदा ने भारत की ओर कदम बढ़ाए हैं। तो कहीं ना कहीं हम प्रकृति को छेड़ने के दोषी भी हैं। यह प्रभु का संकेत है।जिससे देश जल्दी ही उभरेगा लेकिन तब तक सबको अपने घरों में रहकर साधना यज्ञ व व्यायाम करना चाहिए
आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज जी ने कहा कि हमारी सनातन धर्म परंपरा हमेशा विश्वकल्याण की रही है।वर्तमान में कोरोना महामारी फैलने से समूचा विश्व संकट के दौर से गुजर रहा है।कई विकसित देश तबाह होने की स्थिति में है।अब यह महा संकट हमारे देश भारत मैं भी बढ़ रहा है।जिसे देश में फैलने से रोकना देश के प्रत्येक प्राणी का दायित्व है।
5:59 




भोपाल संवाददाता- चेत्र नवरात्रि के दौरान महा अष्टमी का त्योहार आज है, कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए लगातार प्रदेश सहित देश में प्रतिदिन इससे लोग पीड़ित हो रहे हैं।पूरे भारत देश में लॉकडाउन जारी है। इसी को मद्देनजर रखते हैं मेरी आपसे हाथ जोड़कर निवेदन है कि इस बार महा अष्टमी का त्योहार अपने अपने घरों में रहकर ही मनाएं एवं माता रानी की पूजा अर्चना अपने घरों में रहकर ही करें। घरों में हवन करें माता रानी का पाठ करें जिससे घर का एवं बाहर का वातावरण शुद्ध होगा घर में सुख समृद्धि आएगी। पूर्ण विधि-विधान से माता रानी का पूजा संपन्न करें।
अपने घरों से ना निकले क्योंकि कर्फ्यू लॉक डॉउन के दौरान सभी देवी मंदिर और अन्य मंदिर बंद है इसीलिए पुनः देश की संपूर्ण जनता से मेरा निवेदन है के घरों में रहकर ही पूजन करें इससे ना केवल आपकी सुरक्षा होगी बल्कि आसपास रहने वाले लोगों एवं देश के नागरिकों की कोरोना वायरस से रक्षा होगी।

                                                         कोटा से कनिका हाडा की रिपोर्ट। ....                                                                                                                                                                                                                                                                                 सभी परिवार के सदस्य कृपया ध्यान दें
1- कोई भी खाली पेट न रहे
2- उपवास न करें
3- रोज एक घंटे धूप लें
4- AC का प्रयोग न करें
5- गरम पानी पिएं, गले को गीला रखें
6- सरसों का तेल नाक में लगाएं
7- घर में कपूर वह गूगल जलाएं
आप सुरक्षित रहे । घर पर रहे i
8- आधा चम्मच सोंठ हर सब्जी में पकते हुए डालें..
9- रात को दही ना खायें
10 -बच्चों को और खुद भी रात को एक एक कप हल्दी डाल कर दूध पिएं
11- हो सके तो एक चम्मच चवनप्राश खाएं
12- घर में कपूर और लौंग डाल कर धूनी दें
13- सुबह की चाय में एक लौंग डाल कर पिएं
14- फल में सिर्फ संतरा ज्यादा से ज्यादा खाएं
15- आंवला किसी भी रूप में चाहे अचार , मुरब्बा,चूर्ण इत्यादि खाएं।
यदि आप Corona को हराना चाहते हो तो कृप्या करके ये सब अपनाइए।
हाथ जोड़ कर प्रार्थना है आप सबसे,
दूध में हल्दी आपके शरीर में इम्यूनिटी को बढ़ाएगा।🙏🏻

देपालपुर से दिपक सेन कि रिपोर्ट
विद्युत मंडल की लापरवाही से किसान की 6 महीने की गेहूं की फसल हुई जलकर खाक इंदौर जिले की हातोद तहसील मुख्यालय से 3 से 4 किलोमीटर दूर गांव रोजड़ी में किसान कनीराम पटेल के खेत में गेहूं की फसल शॉर्ट सर्किट की वजह से करीब 5 से 8 बीघा जमीन जलकर हुई खाक विद्युत मंडल की लापरवाही का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कल भी इस तरह की घटना गांव तलावली तहसील देपालपुर मैं 25 से 30 बीघा जमीन के गेहूं पूरी तरह से जलकर खाक हो गए थे उसके बाद भी विद्युत मंडल ने अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाई व आज फिर सुबह 11:00 बजे के आसपास चालू लाइट में तेज हवा के कारण शॉर्ट सर्किट से गेहूं की फसल जल गई पास के गांव के किसानों को घटना की सूचना मिलते ही अपने अपने साधनों से ट्रैक्टर व पंजे व कोई गीले थेलें लेकर पहुंचे व किसी तरह आग पर काबू पाया गया किसानों का कहना है कि हमने जैसे ही आग की लपटें देखी तुरंत फायर ब्रिगेड को सूचना दी पर फायर ब्रिगेड का 1 घंटे तक अता-पता नहीं रहा आग बुझाने के बाद मौके पर पहुंची जिससे ग्रामीणों में काफी आक्रोश था कई किसानों का कहना है कि प्रशासन किसानों की सुध नहीं ले रहा वहीं भारतीय किसान मजदूर सेना के प्रदेश अध्यक्ष बबलू जाधव ने जिले में बढ़ रही शॉर्ट सर्किट की घटना पर बड़ा दुख जताते हुए कहा कि विद्युत मंडल की लापरवाही कहीं ना कहीं किसानों की गले की फांस बन गई है हमने किसानों की समस्याओं को देखते हुए 15 दिन पहले ही सीएमडी विकास नरवल साहब को लेटर लिखकर किसानों कृषि सिंचाई फिटर की समस्या से अवगत कराया था जिसमें किसानों को दोपहर में बिजली ना देकर सुबह जल्दी वह रात को अंधेरा होने के बाद ही बिजली दी जाए जिससे इस तरह की घटना घटित ना हो दोनों घटनाओं की जिम्मेदारी विद्युत मंडल की है व व किसान के जले हुए गेहूं की भरपाई विद्युत विभाग करें शासन भी मामले को संज्ञान में लेकर विभाग से बात कर समस्या का समाधान जल्द से जल्द करें ताकि इस तरह की घटना आने वाले दिनों में घटित ना हो



ग्वालियर संवाददाता- हजीरा एवं आसपास की गरीब बस्तियों एवं भिंड,मुरैना ,दतिया आदि आसपास के शहरों एवं गरीब बस्तियों में लगातार आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज उर्फ मिर्ची बाबा लगातार गरीबो एवं जरूरतमंदों को नित्य भोजन एवं उनके जरूरतों के सामान की व्यवस्था कर रहे हैं।वह स्वयं बस्तियों में जा जा कर अपने हाथों से लोगों को भोजन के पैकेट वितरित कर रहे हैं।महाराज जी का कहना है कि मुझे मेरे कुल देवता ने जब यह जन सेवा करने का मौका दिया है।तो मैं क्यों ना करूं।जब तक मेरे शरीर में प्राण है।एवं जब तक हम इस खतरनाक चीनी वायरस कोरोना पर विजय प्राप्त नहीं कर लेते हैं।तब तक मैं गरीबों एवं जरूरतमंदों की सेवा करता रहूंगा।

सोनकच्छ से मोहन सिंह बैस की रिपोर्ट

सोनकच्छ। कर्फ्यू छूट के दौरान बाजारों में उमड़ी भीड़,,,,

नियमों को किया तार-तार,,,,, दुकानदारों द्वारा नहीं किया गया नियमों का पालन,,,, खुलकर कर उड़ाई गई नियमों की धज्जियां,,,,, सोनकच्छ :- सुबह 8:00 से 11:00 बजे कर्फ्यू में छूट के दौरान सोनकच्छ शहर में खुलकर उड़ाई गई नियमों की धज्जियां। बाजारों में उमड़ा जनसैलाब। जहां एक और पूरा विश्व इस घातक बीमारी से लड़ रहा है वही देवास जिले के सोनकच्छ शहर में दुकानदारों द्वारा खुलकर नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है। नियमों को ताक में रखकर सामान बेचा जा रहा है । दवाइयों एवं किराना की दुकानों पर अत्यधिक भीड़ नजर आई। इस दौरान ग्राहकों द्वारा नियमों का पालन नहीं किया गया पूरे शहर में सामान लेने की मारामारी रही ।वही पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी नदारद रहे ।जबकि मीडिया के माध्यम से बार-बार सतर्क क्या जा रहा है। व प्रशासन द्वारा समय-समय पर मुनादी भी की जा रही है फिर भी लोग नहीं मान रहे हैं लोगों की मनमानी और प्रशासन का ढीला रवैया कहीं बड़ा सबब न बन जाए। ऐसे में किस प्रकार से इस कोरोना वायरस की लड़ाई से लड़ा जा सकेगा। यह सोचने का विषय है।
11:36 PM




भोपाल संवाददाता  कोरोनावायरस ने विश्व में कोहराम मचा रखा है।इस वायरस से बचाव हेतु विश्व समुदाय जूझ रहा है।लेकिन अभी तक इसका कोई तोड़ या यूं कहे कि बचाव की सही राह नजर नहीं आ रही है। विश्व के सभी देश अपने अपने तरीके से देशवासियों को बचाने और राहत देने का कार्य कर रहे हैं। भारत सरकार ने भी जनता कर्फ्यू के बाद 21 दिन का लॉक डाउन किया है। लेकिन देखने में यहां आ रहा है कि आम जनता बेवजह सड़कों पर नजारा देखने के लिए घूम रही है जिससे सोशल डिस्टेंस का रूल फॉलो नहीं हो पा रहा है वही कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु उठाया गया एक कदम सार्थक होगा इस पर प्रश्नचिन्ह लग रहा है।
आज इस विषय पर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज (मिर्ची बाबा) ने न्यूज़ 19 इंडिया से चर्चा करते हुए देशवासियों से अपील की है कि वह 21 दिन के लॉक डाउन का पूर्णता परिपालन करें खुद भी सुरक्षित रहे दूसरे की भी सुरक्षा का ध्यान रखें।मिर्ची बाबा ने कहां की आम जनता को धैर्य रखने की जरूरत है।आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकले वह भी पूरी तरह से सुरक्षित होकर। संत समाज द्वारा लगातार गरीबों मजदूरों एवं जरूरतमंदों को लगातार भोजन एवं आवश्यक सामग्रियों का वितरण निरंतर किया जा रहा है। और इस नवरात्रि के अवसर पर यज्ञ अनुष्ठान भी हमारे आश्रम पर किए जा रहे हैं ताकि देवी शक्ति द्वारा इस कोरोना वायरस पर विजय प्राप्त की जा सके।






न्यूज़19 इंडिया से विशेष बातचीत के दौरान महामंडलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरी महाराज ने बताया कि आज जो हमारा पूरा भारत देश इस भयंकर कोरोना वायरस जूझ रहा है।यह बहुत ही चिंता का विषय इस भयंकर वायरस को यदि यही नहीं रोका गया तो यह हमारे भारत देश में बहुत ही बड़ी तबाही मचाएगा इसकी रोकथाम के लिए भारत सरकार ने जो भी कदम उठाए हैं। वह सराहनीय है।वही भारत देश की जनता से मेरा हाथ जोड़कर निवेदन है।कि वे शासन प्रशासन का साथ दें उनके द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें अपने व अपने परिवारों का ध्यान रखें घरों में रहे व जितना हो सके खुद की सुरक्षा करें एवं गरीब मजदूर वर्ग की इस संकट की घड़ी में मदद करें। बहुत जरूरी काम होने पर ही अपने घरों से निकले व सुरक्षा के साधनों का इस्तेमाल करें हर आधे घंटे में साबुन से अच्छे से अपने हाथों को धोएं इससे आप खुद की एवं दूसरों की भी सुरक्षा कर सकते हैं,महाराज जी ने बताया कि पूरा साधु संत समाज इस भीषण वायरस पर विजय प्राप्त करने के लिए एकजुट होकर आगे आया है। पूरा संत समाज अपने अपने आश्रमों में यज्ञ व अनुष्ठान कर रहा है साथ ही गरीब मजदूर वर्ग के लोगों के लिए भोजन एवं उनके जरूरतों का सामान भी उपलब्ध करा रहा है।बालकानंद गिरी महाराज का कहना है।की अभी नवरात्रि चल रहे हैं।इसमें हम इस वायरस पर विजय प्राप्त करने के लिए माता रानी का अनुष्ठान कर रहे हैं। क्योंकि देवीय शक्ति ही जल्द इसका विनाश कर सकती है।महाराज जी ने इस कठिन परिस्थिति से लगातार लड़ रहे डॉक्टर,नर्स पूरा मेडिकल स्टाफ सफाई कर्मी,पुलिस विभाग, शासन-प्रशासन एवं मीडिया कर्मी सभी को धन्यवाद देते हुए कहा की माता रानी इन सब लोगों की रक्षा करें एवं इन्हें स्वस्थ रखें।

गजेंद्र सिंह चंद्रावत
1: कम से कम 5 फीट की दूरी से लोगों से बात करें, बिना मास्क के किसी भी सूरत में लोगों के बीच न जाएं
2: बाइक या कार से उतरने से पहले अपनी कलाइयों से आगे तक जो पूरा हाथ सेनेटाइज करेंl
3: भीड़ के बीच में लाइव न करें
4: चलते हुए लोगों के रिएक्शन ले और आगे बढ़ जाएं
5: लाइव ऐसी लोकेशन से ना करें जिससे लोग आपके ज्यादा करीब न आ पाएं
6: लाइव या वीडियो बनाते वक्त अपने वाहन से उतरने से पहले ईयर पीस/बूम आईडी और मोबाइल पर भी सैनिटाइजर लगाएं
7: लोगों का अगर इंटरव्यू करें तो उसके तुरंत बाद मोबाइल ईयर पीस और हाथों को एक बार फिर से सेनेटाइज करके ही वाहन में बैठें। गाड़ी में चाबी, स्टेयरिंग, सीट, हैंड ब्रेक इत्यादि पर डिटोल या सेवलोन जैसे लिक्विड से भीगे हुए कपड़े से सफाई कर लें।
8: जो कपड़े आपने पहने हैं उसको अगले दिन इस्तेमाल ना करें उसे तुरंत धोने में डाल दें
9: कोशिश करें इसी परिवार के सदस्य के जरिए नहीं बल्कि खुद ही उसे वाशिंग मशीन में डाल दें
10: अगर कहीं बाहर लाइव करके आए हैं या ऑफिस से काम खत्म कर फिर घर पर आ रहे हैं तो भी समय ध्यान रखना है कि घर के किसी सदस्य और खासकर बच्चों को हाथ नहीं लगाना है
11: जूते चप्पल घर के बाहर ही रखें कोशिश करें कि घर के बाहर ही हाथ मुंह धोने का आप का इंतजाम परिवार के लोग कर दें ।
12: कोरोना की रिपोर्टिंग करते वक्त सुरक्षा पहले है और लोगों को लाइव में भी बताएं कि ये लाइव करते वक्त आपने क्या सावधानी बरती
निवेदक प्रधान संपादक न्युज 19 इंडिया

9:3




ग्वालियर संवाददाता आज जहां हमारा भारत देश ही नहीं बल्कि पूरा विश्व कोरोना वायरस जैसी भयंकर महावारी से जूझ रहा है वही हमारे देश के साधु संत भी मानव सेवा के लिए आगे आ रहे हैं।ऐसे ही विश्व विख्यात मिर्ची बाबा के नाम से प्रसिद्ध आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज ने ग्वालियर जिले के हजीरा मैं बनी गरीब बस्ती में रहने वाले लाखों गरीब परिवार एवं मजदूरों के भोजन से लेकर उनके सभी जरूरतों के सामान की जिम्मेदारी उठाई है।मिर्ची बाबा का मानना है।कि मानव सेवा ही सर्वोपरि है।भूखे गरीब लोगों की सेवा करना ही असली धर्म है। यही सनातन धर्म है। न्यूज़ 19 इंडिया के पूछने पर मिर्ची बाबा ने बताया कि वह नित्य सुबह एवं शाम को ग्वालियर,भिंड,दतिया, मुरैना और इसके आसपास के इलाकों एवं बस्ती में रहने वाले गरीब एवं मजदूर वर्ग के लोगों के लिए भोजन के पैकेट व जरूरी सामान अपने संगठन के माध्यम से बटवा रहे हैं।और वे स्वयं भी आसपास के इलाकों में जाकर अपने हाथों से भोजन के पैकेट बांट रहे हैं। साथ ही लोगों को कोरोना वायरस से बचने के उपाय भी बता रहे हैं। धर्मगुरु आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद जी का मानना है। कि आज मुझे इस भारतवर्ष के लोगों ने ही इस लायक बनाया है।कि मैं उनकी सेवा कर सकूं और जब तक मेरे शरीर में प्राण हैं मैं इसी तरह भारतवर्ष के लोगों की सेवा करता रहूंगा।




ग्वालियर संवाददाता आज जहां हमारा भारत देश ही नहीं बल्कि पूरा विश्व कोरोना वायरस जैसी भयंकर महावारी से जूझ रहा है वही हमारे देश के साधु संत भी मानव सेवा के लिए आगे आ रहे हैं।ऐसे ही विश्व विख्यात मिर्ची बाबा के नाम से प्रसिद्ध आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज ने ग्वालियर जिले के हजीरा मैं बनी गरीब बस्ती में रहने वाले लाखों गरीब परिवार एवं मजदूरों के भोजन से लेकर उनके सभी जरूरतों के सामान की जिम्मेदारी उठाई है।मिर्ची बाबा का मानना है।कि मानव सेवा ही सर्वोपरि है।भूखे गरीब लोगों की सेवा करना ही असली धर्म है। यही सनातन धर्म है। न्यूज़ 19 इंडिया के पूछने पर मिर्ची बाबा ने बताया कि वह नित्य सुबह एवं शाम को ग्वालियर,भिंड,दतिया, मुरैना और इसके आसपास के इलाकों एवं बस्ती में रहने वाले गरीब एवं मजदूर वर्ग के लोगों के लिए भोजन के पैकेट व जरूरी सामान अपने संगठन के माध्यम से बटवा रहे हैं।और वे स्वयं भी आसपास के इलाकों में जाकर अपने हाथों से भोजन के पैकेट बांट रहे हैं। साथ ही लोगों को कोरोना वायरस से बचने के उपाय भी बता रहे हैं। धर्मगुरु आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद जी का मानना है। कि आज मुझे इस भारतवर्ष के लोगों ने ही इस लायक बनाया है।कि मैं उनकी सेवा कर सकूं और जब तक मेरे शरीर में प्राण हैं मैं इसी तरह भारतवर्ष के लोगों की सेवा करता रहूंगा।



भोपाल न्यूज 19 इंडिया से खास बातचीत के दौरान आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज उर्फ मिर्ची बाबा ने लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के के लिए चिंता जाहिर की उन्होंने बताया कि आज पूरा भारत देश ही नहीं पूरा विश्व इस भीषण वायरस से जूझ रहा है यह हमारे देश के लिए बहुत ही घातक हो सकता है यदि समय रहते इसे नहीं रोका गया तो यह पूरे देश को खत्म कर सकता है हमारे देश में अभी इसकी शुरुआत है अगर इसे यही नहीं रोका गया तो या निरंतर बढ़ते जाएगा शासन प्रशासन इसकी रोकथाम के लिए उचित कदम उठा रहे है। इस भीषण वायरस को रोकने के लिए देश के प्रधानमंत्री मैं जो भी कदम उठाए हैं वह सराहनीय है एवं श्रेष्ठ है मेरे भारतवर्ष के संपूर्ण जनता से पुनः अनुरोध है कि वे शासन प्रशासन व सरकार की तरफ से दिए गए निर्देशों का पालन करें। सरकार द्वारा जो भी नियम बनाए हैं उनका पालन करें यह व्यवस्था आप लोगों के लिए ही है आप के बचाव के लिए हैं आप की सुरक्षा के लिए इसलिए मेरा भारतवर्ष की जनता से हाथ जोड़कर निवेदन है कि अपने घरों में रहें बहुत ज्यादा जरूरी काम आने पर ही अपने घर से निकले सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें समय-समय पर अपने हाथ धोएं साफ-सुथरे रहे। क्योंकि आपकी सुरक्षा आपके ही हाथ में हैं । महाराज ने कहा कि भारत की जनता को देश प्रेम दिखाने का यह बहुत ही बढ़िया मौका है आप घर में रहे यही सच्ची देशभक्ति है। नवरात्रि मैं घर में रहकर ही माता रानी का जप करें हवन करें एवं अपने इष्ट देवता से प्रार्थना करें।
      आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज उर्फ मिर्ची बाबा ने न्यूज19 इंडिया को बताया कि, वे स्वयं एवं उनकी पूरी टीम एवं कई संगठन और पूरा संत समाज ग्वालियर,भिंड, दतिया एवं मुरैना मैं लगातार पूरा संत समाज गरीब बस्तियों, झुग्गी झोपड़ियों एवं मजदूर वर्ग के लोगों को प्रतिदिन खाने पीने से लेकर उनके रोजमर्रा की जरूरतों का सामान वितरित कर रहे हैं, साथ ही उन्हें समझाइश दे रहे हैं कि इस भीषण वायरस से कैसे बचा जाए। साथ ही मिर्ची बाबा ने आर्थिक रूप से सक्षम लोगों से निवेदन किया है कि जितना भी हो सके गरीब लोगों की सेवा करें यही मौका है अपने धन का सही उपयोग करने का बाबा का कहना है कि मैं और मेरी पूरी टीम एवं पूरा संत समाज इस भीषण कोरोना वायरस से लड़ने के लिए भारत सरकार के साथ है। एवं सरकार द्वारा इस मुश्किल घड़ी में लिए गए निर्णय का सम्मान एवं पालन करता है। पूरा संत समाज इस मुश्किल घड़ी में सरकार के साथ हैं।और जब तक हम इस खतरनाक कोरोना वायरस पर विजय प्राप्त नहीं कर लेते जब तक पूरा संत समाज ऐसे ही गरीब लोगों की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहेगा। साथ ही मिर्ची बाबा ने इस मुश्किल घड़ी में दिन रात लड़ रहे डॉक्टर नर्सों एवं पूरी मेडिकल टीम धन्यवाद दिया है।



भोपाल न्यूज 19 इंडिया ने की स्वामी वैराग्य नंद गिरी उर्फ मिर्ची बाबा से खास बातचीत 
महाराज जी ने कहा कि आज जहां हिंदू धर्म का सबसे महत्वपूर्ण त्योहार नवरात्रि प्रारंभ हो रही है। वहीं आज पूरा भारत देश कोरोना वायरस जेसी महावारी से जूझ रहा है। यह बहुत ही चिंता का विषय है अगर इस महावारी को यही नहीं रोका गया तो यहां हमारे भारत देश में बहुत ही तबाही मचाएगा। इस कोरॉना वायरस के लगातार बढ़ते प्रभाव को देखते हुए। गुरु जी ने भारत देश के संपूर्ण जनता से हाथ जोड़कर निवेदन किया है कि नवरात्रि के पावन पर्व पर सभी देशवासी अपने घर पर ही रहकर दुर्गा माता के 32 नामों का उच्चारण करें माता के 12 वें अध्याय का पाठ करें परमपिता परमेश्वर से प्रार्थना करें। प्रातः जल्दी उठकर गोमूत्र का सेवन करें संपूर्ण विश्व में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए दुर्गा माता से दुआ करें। भगवान श्री कृष्ण ने गीता में कहा है कि आहार शुद्धि चित्त शुद्धि इसलिए शुद्ध एवं शाकाहारी भोजन का सेवन करें। एवं अपने आसपास का वातावरण साफ स्वच्छ एवं उत्तम रखें। गुरु जी ने भारतवर्ष के संपूर्ण जनता से यह निवेदन किया है कि आप के पास देशभक्ति दिखाने का यह सबसे अच्छा मौका है आप अपने घरों में बैठकर ही अपने देश को बचा सकते हैं साथ ही गुरु जी ने कहा है कि हमारे देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी। ने देश को बचाने के लिए इस वक्त जो निर्णय लिया है मैं उस निर्णय का समर्थन करता हूं। इस वक्त मोदी जी का यह निर्णय बहुत ही उचित एवं श्रेष्ठ है। भारतवर्ष की संपूर्ण जनता जनार्दन उनके निर्णय का सम्मान करें एवं पालन करें। शासन प्रशासन का साथ दें। गुरु जी ने शासन प्रशासन को धन्यवाद दिया है जो इस मुश्किल घड़ी में अपनी जान की परवाह ना करते हुए जनता के लिए काम कर रहे हैं। गुरुजी ने कहा कि मैं उन तमाम डॉक्टर एवं पूरे मेडिकल स्टाफ को धन्यवाद देता हूं जिन्होंने अपनी जान की परवाह न करते हुए दिन रात इस भयंकर वायरस से देश की जनता को बचा रहे हैं। उनका इलाज कर रहे हैं।

जब न्यूज़ 19 इंडिया ने मिर्ची बाबा से से पूछा कि इस संकट की घड़ी में आप किस तरह से अपना योगदान दे रहे हैं
        तब मिर्ची बाबा ने बताया कि ग्वालियर,भिंड ,दतिया ,मुरैना आदि शहरों में जहां भी कोई भी भूखा प्राणी मिलता है तो मेरी पूरी टीम उनके लिए भोजन की व्यवस्था एवं उनके तमाम जरूरतों के साधनों की व्यवस्था करवा रही है। साथ ही हमारी पूरी टीम गरीबों के घर घर एवं बस्तियों में रहने वाले, दिहाड़ी मजदूरी करने वाले मजदूर वर्ग के लोगों को खाने-पीने से लेकर उनके जरूरतों के संपूर्ण साधनों को उपलब्ध करा रहे हैं। और लगातार 21दिनों तक संगठन के माध्यम से लोगों को उनके जरूरतों का सामान उपलब्ध कराएंगे।
इसके साथ ही मिर्ची बाबा ने उन सभी उद्योगपतियों एवं अरबपति सक्षम लोगों से निवेदन किया है कि ऐसे लोग जो आर्थिक रूप से सक्षम है वे लोग इस संकट की घड़ी में आगे आए एवं गरीबों की मदद करें। एवं अपने धन का सदुपयोग करें।पुनः मिर्ची बाबा ने देश की जनता को संदेश देते हुए कहा कि अपने अपने घरों में रहकर ही इस भयंकर वायरस से बचा जा सकता है इसलिए जितना हो सके अपने घरों में ही रहे बहुत जरूरी काम होने पर ही घर से निकले एवं घर से निकलते वक्त पूरी सावधानी का ध्यान रखें। गर्म पानी पिए भरपूर नींद लें नित्य सुबह उठकर व्यायाम करें योगा करें ध्यान करें और इस महापर्व नवरात्रि में मां भगवती की उपासना करें प्रार्थना करें। घर में रहकर ही हवन करें।एवम् संपूर्ण विश्व शांति एवं इस भयंकर वायरस से निपटने के लिए माता रानी और अपने इष्ट देवता से प्रार्थना करें।
अंत में मिर्ची बाबा ने कहा कि मैं उन सभी इलेक्ट्रॉनिक मीडिया एवं प्रिंट मीडिया और जो पत्रकार साथी इस वक्त अपनी जान की परवाह न करते हुए हैं फील्ड में घूम रहे हैं। एवं समय-समय पर हर जगह की स्थिति बता रहे हैं मैं उन सभी पत्रकार साथियों को धन्यवाद देता हूं। एवं उनके अच्छे स्वास्थ्य की माता रानी से प्रार्थना करता हूं




भोपाल देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए मिर्ची बाबा ने भारतवर्ष की संपूर्ण जनता से अनुरोध किया है कि कोई भी अपने घर से अति आवश्यक काम होने पर ही निकले ज्यादा भीड़भाड़ वाली जगह पर ना जाएं विदेश से आए हुए  व्यक्ति के संपर्क में ना आए जरूरी काम होने पर जब भी घर से बाहर निकले तब अपने मुंह को कपड़े से पूरी तरह कवर कर कर या मास्क पहनकर घर से बाहर निकले ज्यादा समय अपने घर में ही गुजारे अपने हाथों को बार बार अच्छी तरह से धोएं।साथ ही मिर्ची बाबा ने उन डॉक्टरों का भी धन्यवाद दिया जो इस कठिन परिस्थिति में अपनी जान की परवाह ना करते हुए संक्रमित लोगों का दिन रात इलाज कर रहे हैं।और मिर्ची बाबा ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के संदेश एवं उनके अच्छे विचारों के लिए मैं उनके साथ खड़ा हूं।और जनता कर्फ्यू का में समर्थन करता हूं और संपूर्ण भारतवर्ष की जनता से हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं कि आप सब भी उनके विचारों का आदर करें।आज भारतवर्ष के सभी मंदिर मस्जिद गुरुद्वारे कोरोना वायरस के बढ़ते हुए प्रभाव के कारण बंद कर दिए हैं ऐसे में भारत की जनता से मेरा अनुरोध है कि आप घर पर बैठकर ही प्रार्थना करें।और जो लोग इस वायरस से संक्रमित हैं उनके जल्द ही स्वस्थ होने की कामना की है।देश में आई इस संकट की घड़ी में भारत सरकार ने सराहनीय कदम उठाएं है। मैं पुनः भारतवर्ष की संपूर्ण जनता से अनुरोध करता हूं की भारत देश में आए इस भीषण संकट से निपटने के लिए सावधानियां बरतें एवम् सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें



दीक्षा शर्मा ने कहा है कि मैं भारत की बेटी होने के नाते आप सब लोगों से हाथ जोड़कर निवेदन करती हूं कि आज पूरा भारत वर्ष जिस कोरोना वायरस से जूझ रहा है उसके बचाव के लिए आप सब लोग सावधानी बरतें जितना हो सके अपने घर से बाहर ना निकले अपने मित्रों रिश्तेदारों एवं करीबियों से कुछ समय के लिए दूरी बनाए जब भी आप लोग घर से निकले मुंह पर रुमाल या मास्क पहन कर निकले इस भयंकर महावारी से बचने के लिए भारतवर्ष के 130 करोड़ लोगों से मेरा यही अनुरोध है कि थोड़ी सी सावधानी से हमारे भारत पर आए इस संकट से हम लड़ सकते हैं
भारतवर्ष की जनता से मेरा निवेदन है कि भीड़भाड़ वाली जगह पर जाने से बचें जितना भी हो सके अपने घर से बाहर ना निकले एवं जितना हो सके अपने रिश्तेदारों एवं परिचितों को जागरूक करें

ब्यूरो रिपोर्ट। ......                                 
                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                  मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के छोटे भाई और चांचौड़ा के विधायक लक्ष्मण सिंह  ने मध्य प्रदेश नदी न्यास के अध्यक्ष नामदेव दास उर्फ कंप्यूटर बाबा को फर्जी बताया है। लक्ष्मण सिंह ने कहा कि शिक्षित समाज में ऐसे फर्जी बाबाओं की कोई आवश्यकता नहीं है। जो तप करते हैं। साधना करते हैं सही मायने में वह संत है। समाज के लोग उन्हें संत मानते हैं । और मैं भी मानता हूं। लेकिन कंप्यूटर बाबा जैसे फर्जी बाबाओं को हमारा समाज संत के रूप में स्वीकार नहीं करेगा। कांग्रेस अगर ऐसे फर्जी बाबाओं को संरक्षण देगी तो भविष्य में भारी नुकसान होने की पूरी संभावना है पूर्व में भी ऐसे फर्जी बाबाओं से कांग्रेस को काफी हानि पहुंची है लक्ष्मण सिंह ने कंप्यूटर बाबा के उस बयान पर पलटवार किया है जिसमें उन्होंने 17 फरवरी को कहा था कि लक्ष्मण सिंह जिस मामले में कुछ नहीं जानते उस पर भी बोलते हैं वही लक्ष्मण सिंह के बयान पर कंप्यूटर बाबा ने कहा जो उन्हें अच्छा लगता है ।बोले मुझे जो सही लगता है। मैं वही कहूंगा।
                                                                                                                                                           विधायक लक्ष्मण सिंह ने यह भी कहा की मैं 5 बार लोकसभा से चुना गया हूं तीसरी बार विधानसभा में चुना गया अगर मैं अंगल बातें करता तो इतनी बार नहीं चुना जाता कंप्यूटर बाबा यह कह रहे हैं कि मैं अनगर्ल बात कर रहा हूं तो वाह अपमान मेरा नहीं है मतदाताओं का अपमान है जिन्होंने मुझे पांच बार लोकसभा और तीसरी बार विधानसभा में चुना है।
                                                                                                                                                                    लक्ष्मण सिंह कांग्रेस पार्टी को फर्जी बाबा से दूरियां बनाने की नसीहत देते हुए कहा कि कांग्रेस की  आड़ में अपना खेल खेलना बंद करें बाबा। ऐसे बाबा केवल नुकसान ही कर सकते हैं इनसे कोई लाभ नहीं होगा। अंत में लक्ष्मण सिंह ने कहा कि उनकी आस्था सच्चे साधु संतों पर हमेशा रही है। और रहेगी। लेकिन फर्जी बाबाओं के खिलाफ वह हमेशा खड़े होंगे।
                                                                                                                                                             सिंह की बातों से या अनुमान लगाया जा रहा है। कि कंप्यूटर बाबा सिर्फ अपनी जेब भर रहे हैं। अगर उन्हें नदियों की वास्तव में चिंता है।तो वह नदियों के विकास के कार्य करें नदियों पर श्रद्धालुओं के लिए घाट बनाएं। नदी संरक्षण हेतु नदियों के आस-पास पेड़ पौधे लगवाए। उनकी सफाई व्यवस्था पर ध्यान दें। नदियों के सौंदर्यीकरण पर ध्यान दें। लेकिन ऐसा ना करते हुए कंप्यूटर बाबा सिर्फ रेत माफियाओं से सांठगांठ करके खुद का ही विकास कर रहे हैं।

 गजेंद्र सिंह चंद्रावत की  रिपोर्ट ......                                     
                                                                                  
                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                     तेजी से बढ़ रहे हैकिंग अटैक्स से बचना आज किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है जिसके चलते सायबर वर्ल्ड में हर कोई अपनी डिजिटल लाइफ, आइडेंटिटी, डेटा आदि की सुरक्षा को लेकर चिंतित है। सायबर क्रिमिनल्स अक्सर अपने मैसेजेज या मेल्स में स्पायवेयर या मैलवेयर भेजते हैं जिन पर क्लिक करने से आप उनके जाल में फंस जाते हैं और वे आपका डेटा, आईडी आदि हैक कर लेते हैं। हालांकि आजकल हैकर्स ने इस तरह के मैसेजेज या ईमेल्स की क्राफ्टिंग को रिफाइन करना शुरू कर दिया है जिसमें वे मैलिशियस लिंक्स को भी शामिल करने लगे हैं। ऐसे में आपको उस नियम का पालन करना चाहिए जिसके तहत 'अजनबियों से बात न करें' जैसी प्रैक्टिस की जाती है यानी ऐसे नंबर्स या ईमेल्स एड्रेसेज जो आपके परिचित नहीं है, उनमें आने वाले लिंक्स या अटैचमेंट्स पर क्लिक न करें। आप अपने डिजिटल वर्ल्ड को और अधिक सुरक्षित कैसे कर सकते हैं, इस जानकारी के लिए यहां कुछ टिप्स शेयर किए जा रहे हैं-
ओपन वाई-फाई को अवॉइड करें
ध्यान रखें, पब्लिक या ओपन वाई-फाई नेटवर्क्स, सायबर क्रिमिनल्स के लिए हैकिंग के सबसे आसान तरीकों में से एक हैं, क्योंकि हैकर्स अपने वाई-फाई हॉटस्पॉट्स को समान नाम के साथ ओपन नेटवर्क पर रन करते हैं जिससे यूजर्स उनके ट्रैप्स में फंस जाते हैं और अपने डिवाइसेज का एक्सेस उन्हें दे देते हैं। इसलिए आपको मॉल्स, रेलवे स्टेशंस या अन्य किसी जगह पर ओपन वाई-फाई नेटवर्क्स से अपने डिवाइसेज कनेक्ट करने से बचना चाहिए।
पब्लिक चार्जिंग पोर्ट्स से बचें
मॉल्स, रेलवे स्टेशंस, एयरपोर्ट्स जैसी जगहों पर पब्लिक चार्जिंग स्टेशंस भीड़ से घिरे होते हैं। ध्यान रखें, इन पोर्ट्स से चार्ज करना आपके लिए मैलवेयर को खुद इनवाइट करना होगा। ऐसी जगहों पर हैकर्स "ज्यूस-जैकिंगalt39 करते हैं जिससे आपके फोन्स, लैपटॉप्स आदि में मैलवेयर आ सकता है। अतः आप डिवाइसेज के साथ अपने चार्जर्स ही साथ लेकर चलें या फिर उन्हें पहले से ही चार्ज्ड रखें।
सिक्योर पासवर्ड्स काम लें
यह सब जानते हैं कि आपको एक मजबूत पासवर्ड काम में लेना चाहिए, लेकिन फिर भी अधिकतर यूजर्स इसे अवॉइड करते हैं। अतः ईमेल्स, सोशल मीडिया अकाउंट्स, मोबाइल एप्स, इंटरनेट बैंकिंग, एनक्रिप्टेड फाइल्स आदि के लिए सिक्योर पासवर्ड्स का उपयोग करें। जोखिम से बचने के लिए अकाउंट्स के लिए एक जैसे पासवर्ड्स काम न लें।
टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन
अपनी प्राइवेसी को और अधिक सिक्योर बनाने के लिए आप टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन का उपयोग कर सकते हैं जिसे अधिकतर डिजिटल सर्विसेज सपोर्ट करती हैं। इस सर्विस को एक्टिवेट करने पर यह आपको वन-टाइम पासवर्ड्स (ओटीपी) के माध्यम से ही संबंधित अकाउंट्स का एक्सेस देती है। आप इसके बारे में गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, अमेजन, ट्विटर, ड्रॉपबॉक्स आदि पर पढ़ सकते हैं।
वर्चुअल कीबोर्ड्स यूज करें
हैकर्स, कीलॉगर के माध्यम से भी यह पता कर लेते हैं कि आपने फिजिकल कीबोर्ड पर क्या टाइप किया है। इंटरनेट बैंकिंग जैसी ऑनलाइन सर्विसेज आपको यूजर व अकाउंट डिटेल्स इनपुट के लिए वर्चुअल कीबोर्ड्स की सुविधा देती हैं जो फिजिकल कीबोर्ड्स के मुकाबले अधिक सेफ हैं। अतः ऐसी सर्विसेज के लिए वर्चुअल कीबोर्ड्स ही काम में लें।


जिला संवाददाता हुसैन खान रतलाम                                                                                                                                                                                                   


रतलाम/शिवानी सोंलकी आज से एक वर्ष पूर्व ट्रेन में यात्रा के दौरान मासिक धर्म के दौरान आने वाली समस्या से परेशान होना पड़ा तब संकल्प लिया तब पूरे वर्ष में अपने माता पिता के द्वारा दी जाने वाली पॉकेट मनी से महिलाओं को सेनेटरी पेड के प्रति जागरूक करूंगी तभी से राशि एकत्रित करना प्रारंभ किया इस प्रकार एक वर्ष में 6500 रूपयें एकत्रित कर लिये तब सृष्टि समाज सेवा समिति और तेजस्वी दल के सदस्यों ने इस संकल्प को पूरा करने के योजना बनाकर इस अभियान को सखी सारथी अभियान नाम दिया गया और एकत्रित राशि से भारत सरकार के प्रधानमंत्री जन औषधि केन्द्र के माध्यम सस्ती दर पर उपलब्ध बॉयोडिग्रेडेबल पेड सुविधा 01 रूपयें प्रति कि दर पर 6000 नग सेनेटरी नैपकिन क्रय कर लिया किंतु विश्व कीर्तिमान के लिये लगने वाली फीस नही होने पर वह निराश होने लगी तब यह बात शहर के समाज सेवी कचरू राठौड़ को पता चली तो उन्होने मुरलीवाला फांउडेशन के रविन्द्र पाटीदार के माध्यम से विश्व कीर्तिमान की फीस और अन्य सहयोग के लिये आगे आया, इसके पश्चात् आज रतलाम रेल्वे स्टेशन पर महिला यात्रियों को 03 धंटे में 6000 बॉयोडिग्रेडेबल नैपकिन वितरण का विश्वकीर्तिमान के रूप में वज्र वर्ल्‍ड बुक में दर्ज हुआ। रतलाम शहर में अपनी तरह का पहला अभियान था, इस बात कि धोषणा वज्र वर्ल्‍ड बुक के ज्युरी मेंबर श्री शैलेन्द्र सिसौदिया ने धोषणा कर ऑन दा स्‍पॉट इस विश्वकीर्तिमान का प्रमाण पत्र शिवानी सोंलकी को प्रदान किया गया।
                                                                                                                                                                                                                                                         
                                                                                                                                                                             सृष्टि समाज सेवा समिति, मुरलीवाला फाउण्डेंशन, 

 ज्ञात हो कि नॉन कम्ंपोस्टेबल 113000 टन प्लास्टिक मिश्रित सैनिटरी नैपकिन हर साल पूरी दुनिया में जमा हो रहा है हमारे देश में सालाना 43.4 करोड़ सैनिटरी नैपकिन उपयोग हो रहा है जो कि सीवर लाइन, खुले में पडे होते है नतीजा ये पर्यावरण और आम लोगो की सेहत दोंनों के लिए नुकसानदायक है अब इसके विकल्प के रूप में भारत सरकार के द्वारा जन औषधि केन्द्र के माध्यम से बायोडिग्रेडेबल सुविधा पेड महिलाओं के लिये उपलब्ध कराये गये है जो 100 प्रतिशत पर्यावरण अनुकूल है महिला हितैषी इस महत्वाकांशी योजना को जन-जन तक पहुंचाने का हेतु ये अभिनव पहल कि गयी है।                                                                                                                                                                                             

Trending

[random][carousel1 autoplay]

NEWS INDIA 19

{picture#https://lh4.googleusercontent.com/-VoMUBfl84_A/AAAAAAAAAAI/AAAAAAAAAl0/dYNz-ThYfQA/s512-c/photo.jpg} 'News19 India' established in Madhya Pradesh is an 24 hour's Satelite News channel & Hiring Hindi News paper. Its Beginning on August 2018 and its Headquarters are in Indore, Madhya Pradesh. In a very short Time this became India's Most Popular Hindi News Portal & News Paper and Has Consistently Maintained its Reputation.
Blogger द्वारा संचालित.