मानव तस्कर गैंग का खुलासा 5 महीने से लापता थी नाबालिग

गजेंद्र सिंह चंद्रावत की रिपोर्ट। ....                                                                                                                                                                                                                   
  ग्वालियर(मप्र)
शहर से लापता एक नाबालिग लड़की को हरियाणा में बेचने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. दिल्ली निवासी एक महिला ने डेढ़ लाख रुपये में नाबालिग का सौदा कर हरियाणा में जबरन उसकी शादी करवा दी थी. हरियाणा में नाबालिग को 5 महीने तक जबरदस्ती रखा गया था. ग्वालियर पुलिस (Police) ने अब आरोपी महिला को गिरफ्तार कर नाबालिग को मुक्त करा लिया है, वहीं उससे शादी रचाने वाले को भी दबोच लिया गया है.
नाराज होकर दिल्ली गई थी
बीते साल 15 जुलाई को नाबालिग घर से नाराज हो कर दिल्ली चली गई थी. दिल्ली रेलवे स्टेशन पर नाबालिग को बबली उर्फ अरुणा नाम की महिला मिली,बबली उसे भरोसे में लेकर अंबाला ले गई और वहां एक किराए के घर में रखा. कुछ दिनों बाद बबली इस नाबालिग को हरियाणा के बनवासा गांव ले गई, यहां एक दलाल के जरिए दूधिया राजेश को डेढ़ लाख रुपये में बेच दिया. जब नाबालिग को हकीकत पता चली तो उसने वहां से भागने की कोशिश की लेकिन उसे मौका नहीं मिला.
डॉक्टर को पर्ची पर लिखा मां का नंबर
बबली की गिरफ्त में रही नाबालिग का सुराग पुलिस को एक डॉक्टर के जरिए मिला. एक बार नाबालिग बीमार हुई तो बबली उसे इलाज के लिए सहारनपुर में एक डॉक्टर के पास लेकर गई थी, नाबालिग ने इसी दौरान किसी तरह डॉक्टर को एक पर्ची में अपनी मां का नाम और नंबर लिखकर दे दिया था. डॉक्टर ने उसकी मां से संपर्क किया, जिसके बाद मां ने पुलिस को घटना की पूरी जानकारी दी.
दिल्ली से लेकर पंजाब तक की सर्चिंग
नाबालिग की गुमशुदगी के बाद कोर्ट ने भी उसे जल्द तलाशने के आदेश दिए थे, जिस पर ग्वालियर पुलिस की टीम दिल्ली पहुंची और फिर पंजाब हरियाणा में 7 दिन तक सर्च ऑपरेशन चलाया गया. पुलिस गिरफ्त में आई आरोपी बबली मानव तस्कर गैंग की मास्टरमाइंड बताई जा रही है.जो पंजाब के अंबाला से 100 किलोमीटर दूर बगियाल गांव की रहने वाली है.नाबालिग के साथ जिसने शादी की उसका नाम राजेश जाट है, जो कैथल ग्राम बनवासा हरियाणा का रहने वाला है. पुलिस ने अब नाबालिग लड़की को उसकी मां के सुपुर्द कर दिया है. साथ ही आरोपी महिला और जिस व्यक्ति के साथ उसकी शादी की गई थी उसे पकड़ लिया है. अब पुलिस को उम्मीद है कि इस गिरोह के अन्य सदस्यों की भी गिरफ्तारी होगी.

एक पर्ची से मिला सुराग

Reactions: