संकट के समय मैं मानव सेवा हेतु साधु संत समाज आया आगे... आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज (मिर्ची बाबा)




ग्वालियर संवाददाता आज जहां हमारा भारत देश ही नहीं बल्कि पूरा विश्व कोरोना वायरस जैसी भयंकर महावारी से जूझ रहा है वही हमारे देश के साधु संत भी मानव सेवा के लिए आगे आ रहे हैं।ऐसे ही विश्व विख्यात मिर्ची बाबा के नाम से प्रसिद्ध आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज ने ग्वालियर जिले के हजीरा मैं बनी गरीब बस्ती में रहने वाले लाखों गरीब परिवार एवं मजदूरों के भोजन से लेकर उनके सभी जरूरतों के सामान की जिम्मेदारी उठाई है।मिर्ची बाबा का मानना है।कि मानव सेवा ही सर्वोपरि है।भूखे गरीब लोगों की सेवा करना ही असली धर्म है। यही सनातन धर्म है। न्यूज़ 19 इंडिया के पूछने पर मिर्ची बाबा ने बताया कि वह नित्य सुबह एवं शाम को ग्वालियर,भिंड,दतिया, मुरैना और इसके आसपास के इलाकों एवं बस्ती में रहने वाले गरीब एवं मजदूर वर्ग के लोगों के लिए भोजन के पैकेट व जरूरी सामान अपने संगठन के माध्यम से बटवा रहे हैं।और वे स्वयं भी आसपास के इलाकों में जाकर अपने हाथों से भोजन के पैकेट बांट रहे हैं। साथ ही लोगों को कोरोना वायरस से बचने के उपाय भी बता रहे हैं। धर्मगुरु आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद जी का मानना है। कि आज मुझे इस भारतवर्ष के लोगों ने ही इस लायक बनाया है।कि मैं उनकी सेवा कर सकूं और जब तक मेरे शरीर में प्राण हैं मैं इसी तरह भारतवर्ष के लोगों की सेवा करता रहूंगा।

Reactions: