कांग्रेस पार्टी से चुनाव की दावेदारी में जुटे महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज मिर्ची बाबा



मध्यप्रदेश में चुनाव की तैयारी जहां बीजेपी और कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता कर रहे हैं वहीं चुनाव मैदान में धर्मगुरु की चर्चाएं सामने आ रही है कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता पूर्व सीएम कमलनाथ एवं दिग्विजय सिंह के खास माने जाने वाले स्वामी वैराग्य नंद उर्फ मिर्ची बाबा का भी नाम सुर्खियों में है  आध्यात्मिक शक्ति और आध्यात्मिक गुरुओं की कांग्रेस पार्टी को उच्च शिखर पर ले जाने की एक भूमिका सदैव रही है इसी में से आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज धर्मगरू जिनकी जन्म भूमि डांग बी‌‌डखरी भिंड जिले में है और मेहगांव विधानसभा से बड़े-बड़े दिग्गज नेता मैदान में अपना अपना भाग्य आजमा रहे हैं इसी बीच आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज मिर्ची बाबा से हमारे संपादक ने बात की क्या आप मेहगांव विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे आपका भी नाम चल रहा है स्वामी जी ने बताया अगर संत समाज चाहता  है और मेहगांव की संपूर्ण जनता जनार्दन चहाती है की मेहगांव का प्रतिनिधित्व स्वामी जी करें तो फिर देखूंगा बाकी फिलहाल मेरी कोई इच्छा नहीं है श्रीमान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी जो निर्णय लेंगे वह सभी मान्य करेंगे दिग्विजय सिंह स्वयं ही विवेक साली हैं फिलहाल कांग्रेस को एक कदम धर्म का सम्मान करते हुए आध्यात्मिक धर्म गुरुओं को राजनीति में लाना चाहिए धर्मगुरु राजनीति मैं अगर कांग्रेस लाती है तो बीजेपी को परास्त करने में इन्हें एक बहुत बड़ी विजय मिलेगी भारत के धर्मगुरु सभी धर्मो का पालन करते हैं आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी वैराग्य नंद गिरी महाराज जनता के हितेषी रहे हैं इसलिए वह गौ सेवा पूर्णरूपेण करते हैं समय-समय पर कन्याओं की शादी भी कराई है और कोरोना जैसी महामारी में प्रतिदिन गरीबों की भी सेवा कर रहे हैं अंतः हमेशा सेवा करते रहेंगे जय हिंद जय भारत मेहगांव की जनता चहाती है अबकी बार हमारे यहां से कोई धर्मगुरु चुनाव लड़े क्योंकि नेताओं को तो बहुत बार वोट देकर हम धोखा खा चुके हैं इस बार किसी धर्म गुरु पर विश्वास करना चाहते हैं

Reactions: